मुख्यमंत्री ने चक्रवाती तूफान ‘यास’ की तैयारियों को लेकर की उच्चस्तरीय बैठक

0

मुख्य बिंदु:-

संभावित ‘यास’ तूफान से निपटने को लेकर सारी तैयारी पूर्ण रखें।

संबद्ध विभाग चक्रवाती तूफान ‘यास’ से निपटने को लेकर पूरी तरह अलर्ट रहेंगे।

सबंधित विभाग एवं अधिकारी लगातार परिस्थितियों पर नजर बनाये रखें और उसके अनुसार जरूरी तैयारी रखें।

बिजली आपूर्ति के व्यवधान की स्थिति में सभी सरकारी अस्पतालों, प्राइवेट अस्पतालों में मरीजों का इलाज प्रभावित न हो, इसकी वैकल्पिक व्यवस्था सुनिचित कर लें। 

मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आपदा प्रबंधन विभाग, संबद्ध विभाग तथा सभी जिलाधिकारियों के साथ चक्रवाती तूफान ‘यास’ की तैयारियों को लेकर उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की।

स्वास्थ्य सह आपदा प्रबंधन विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री प्रत्यय अमृत ने भारत मौसम विज्ञान विभाग द्वारा ‘यास’ चक्रवात के संबंध में मिली सूचना की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बिहार में 27 मई से 30 मई तक आंधी, तूफान, वज्रपात तथा वर्षा की संभावना है, इसे देखते हुये सभी जिलाधिकारियों को सर्तक कर दिया गया है। ऊर्जा, कृषि, स्वास्थ्य, जल संसाधन, लघु जल संसाधन, पथ निर्माण एवं ग्रामीण कार्य विभाग को विोष रूप से अलर्ट रहने को कहा गया है।

NDRF और SDRF की टीम पूरी तरह तैयार है। नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव श्री आनंद किाोर तथा ऊर्जा सह जल संसाधन विभाग के सचिव श्री संजीव हंस ने भी अपने विभागों से संबंधित तैयारियों को लेकर विस्तृत जानकारी दी।

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुये कहा कि संभावित ‘यास’ तूफान से निपटने को लेकर सारी तैयारी पूर्ण रखें सभी संबद्ध विभाग।