शिक्षा के प्रति बिहार सरकार की तानाशाही रवैया के विरुद्ध ABVP Bihar के नेतृत्व में राज्यव्यापी आंदोलन

169

Muzaffarpur: हाल ही में बिहार सरकार द्वारा रद्द किये गये STET परीक्षा को लेकर छात्रों में आक्रोश है। शिक्षा के प्रति बिहार सरकार की तानाशाही रवैया के विरुद्ध ABVP Bihar के नेतृत्व में राज्यव्यापी आंदोलन चलाया गया। राज्यभर के करीब 1,27,000 आम छात्र/छात्राओं ने सोशल साइट्स पर नीतीश सरकार के शिक्षानीति का विरोध किया। जिसके दमन का सरकार ने भरपूर प्रयास किया। बावजूद इसके शनिवार के दोपहर 01 बजे तक #RollBackSTET भारत में no. 1 trending बन गया। इस दौरान परिषद कार्यकर्ताओं ने काला पट्टा के साथ काला तावा दिखा कर स्लोगन के साथ विरोध किया।

अभाविप मुजफ्फरपुर के संगठन मंत्री पुरुषोत्तम कुमार ने लिखा “न रोटी है न रोजगार, तङप रहा मेरा बिहार।” पूर्व जिला संयोजक प्रभात मिश्रा ने लिखा “छात्र है मूर्ख जनता है गंवार , इहे सोच रहे हैं सुशासन सरकार।”

गायघाट के प्रखंड संयोजक रोहित कुमार ने बताया कि “सरकार के प्रति युवाओं के बेरुखी सरकार के प्रति असंतोष एवं परिवर्तन का जोश दिखा रहा है।” अब बिहार का युवा अब चुप रहने वाला नहीं है।

आंदोलन में अभाविप गायघाट के नगर अध्यक्ष प्र.कु.मिश्रा , नगर मीडिया प्रभारी मयंक मिश्रा , नगर कार्यकारणी सदस्य अभिषेक सुमन , आशुतोष कर्ण , मुरारी कुमार आदि ने अपनी भुमिका निभाई।
कर लीजिए विचार ठीक नहीं है कुर्सी कुमार।।
[उपरोक्त जानकारी अभाविप गायघाट के नगर मीडिया प्रभारी मयंक मिश्रा द्वारा दी गयी है।]