जिलाधिकारी यशपाल मीणा के निर्देश पर उप विकास आयुक्त चित्रगुप्त कुमार की अध्यक्षता में जिला परामर्श दात्री समिति की दिसम्बर तिमाही की बैठक आयोजित की गई

94

वैशाली/हाजीपुर। उप विकास आयुक्त के कार्यालय में आयोजित इस मीटिंग में जिले में कार्यरत सभी सरकारी एवं निजी बैंकों के दिसम्बर तिमाही की लक्ष्य और प्राप्ति पर उप विकास आयुक्त महोदय द्वारा विस्तृत तरीके से समीक्षा की गई ।

मीटिंग के दौरान उप विकास आयुक्त महोदय द्वारा जिले के सभी बैंकों के प्रतिनिधियों से समीक्षा के दौरान जिले में विकास की गति को बढ़ाने हेतु सरकार द्वारा प्रायोजित स्कीम और योजनाओं खासकर सामाजिक सुरक्षा के अन्तर्गत चलाए जा रहें योजना जैसे प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, सुकन्या समृद्धि योजना एवं प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना आदि को लेकर और तीव्रता से कार्य करने एवम लोगों को जोड़ने का निर्देश दिया गया I

PMEGP/PMFME स्कीम एवं उसकी स्थिति की समीक्षा बैंक वार करते हुए उन्होंने उपस्थित सभी बैंक के प्रतिनिधियों से कहा कि जितना जल्दी हो सके ऋण आवेदकों का ऋण आवेदन को शीघ्रता से स्वीकृति प्रदान कर भुगतान करने की व्यवस्था करें।
उप विकास आयुक्त महोदय ने इस मौके पर सुझाव दिया की जिले में जिन बैंको की दस या इससे अधिक शाखा है। उन सभी को एक विशेष कॉर्डिनेटर नियुक्त करने की जरूरत है।
मीटिंग का संयोजक श्री कुमार समरेंद्र अग्रणी जिला प्रबंधक वैशाली ने किया। इनमें एलडीओ, श्री श्रेय चौधरी कुमार ,
श्री के के सिन्हा, जिला मत्स्य पदाधिकारी, श्री सुनील कुमार , निदेशक रूडसेट संस्थान हाजीपुर, सहित जिले के सभी बैंकों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

दूसरी ओर इसी मीटिंग के पश्चात माननीय उप विकास आयुक्त महोदय के अध्यक्षता में रूडसेट संस्थान हाजीपुर के
जिला स्तरीय रूडसेटी परामर्श दात्री समिति की त्रैमासिक बैठक का भी आयोजन किया गया। श्री सुनील कुमार निदेशक, रूडसेट ने इस दौरान संस्थान द्वारा दिए गए प्रशिक्षण व उसके क्रियाकलापों के बारे में विस्तृत ब्यौरा प्रदान किया ।
उन्होंने कहा कि इस वित्तीय वर्ष में रूडसेट संस्थान ने बिहार में सर्वाधिक 976 युवक-युवतियों को प्रशिक्षण देने का काम किया है ।
उनमें से 70% से ज्यादा प्रशिक्षणार्थी अपना स्वरोजगार भी प्रारंभ कर चुके हैं।
इस पर उप विकास आयुक्त महोदय ने प्रसन्नता जाहिर की और कहा कि इसी तरह से अनवरत प्रशिक्षण देने का काम करते रहना है ताकि जिले के व्यक्ति आत्मनिर्भर बन सकें।


भवदीय,
एलडीएम
वैशाली

संवाददाता-राजेन्द्र कुमार।