शांतिपूर्ण तरीके से सद्भाव के माहौल में निकलेगी रामनवमी की जुलूस : जिलाधिकारी

86

वैशाली/हाजीपुर। जिलाधिकारी यशपाल मीणा एवं पुलिस अधीक्षक मनीष के द्वारा रामनवमी पर्व के अवसर पर विधि व्यवस्था के मद्देनजर जिला के सभी अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी एवं थाना प्रभारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर तैयारियों की समीक्षा की गई। वीडियो कांफ्रेंस का आयोजन जिलाधिकारी के कार्यालय कक्ष में की गई थी। समीक्षा के क्रम में तीनों अनुमंडल पदाधिकारियों के द्वारा बताया गया कि थाना स्तर पर एवं अनुमंडल स्तर पर शांति समिति की बैठक कर ली गई है और पूर्व में जो निर्देश दिया गया था शांति समिति में उपस्थित सभी सदस्यों को उससे अवगत करा दिया गया है। जिलाधिकारी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में कहा कि बिना आवेदन के कोई भी समिति रामनवमी जुलूस नहीं निकालेगी।
जुलूस निकालने के लिए हर हाल में आवेदन देना होगा जिसमें जुलूस की तिथि,समय , रूट और जुलूस में भाग लेने वालों की संख्या लिखनी होगी और उसका अनुपालन करना होगा। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी और थाना प्रभारी प्राप्त आवेदनों के आधार पर जुलूस के मार्ग का भौतिक सत्यापन सम्मिलित रूप से करेंगे एवं सभी चीजों को ठीक से देख लेंगे।जिलाधिकारी के द्वारा सभी थानों में प्राप्त आवेदनों की जानकारी प्राप्त की गई और पूछा गया कि कहां से कितनी जुलूस निकाली जा रही है।समितियों के अध्यक्ष / सचिव सहित उसके वॉलिंटियर्स का नाम एवं मोबाइल नंबर रखने का निर्देश पदाधिकारियों को दिया गया। उन्होंने कहा कि मिश्रित आबादी वाले क्षेत्र में विशेष ध्यान रखें एवं रात्रि गस्ती बढ़ा दिया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि इस अवसर पर डीजे पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया है साथ ही जुलूस में किसी भी तरह के हथियार का प्रदर्शन नहीं किया जाना है इसे सुनिश्चित कराने का निर्देश भी दिया गया। सभी अनुमंडल पदाधिकारियों से 110, 107 एवं 144 के अंतर्गत की गई निरोधात्मक कार्रवाई की समीक्षा की गई और इस में तेजी लाने का निर्देश दिया गया।जिलाधिकारी ने कहा कि बेहतर तरीके से तैयारी करें, सतर्क रहें , सचेत रहें और सूचना तंत्र को मजबूत करें। उन्होंने कहा कि बाहर से आने वालों पर कड़ी नजर रखी जाए तथा होटल एवं अन्य संवेदनशील जगहों पर जांच को बढ़ा दिया जाए। सभी संवेदनशील स्थानों पर दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी सहित पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति रहेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि 28 मार्च को पुनःसमीक्षा की जाएगी।


संवाददाता-राजेन्द्र कुमार।