WC News: वैशाली के बुद्ध संग्रहालय तक सीधे हेलिकॉप्टर से लैंड करेंगे पर्यटक, जानिए क्‍या है सरकार की योजना

125

बिहार के वैशाली में भगवान बुद्ध की स्मृति (In memory of Lord Buddha) में बनने वाले संग्रहालय ‘बुद्ध सम्यक दर्शन’ (Buddha Samyak Darshan) के लिए देश-विदेश के पर्यटक (Tourist) सीधे हेलिकॉप्टर (Helicopter) से भी लैंड कर सकेंगे। सरकार ने इस स्थल के निकट हेलीपैड बनाने के लिए जगह की पहचान कर ली है। डायरेक्टर सिविल एविएशन से अनुमति मिलने के बाद यह कार्य शुरू होगा। भवन निर्माण विभाग द्वारा पटना से सटे वैशाली में बनाए जा रहे बुद्ध स्मृति स्तूप और बुद्ध सम्यक दर्शन संग्रहालय के मास्टर प्लान को कुछ अरसा पहले ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने मंजूरी दी है। जिसके बाद निर्माण कार्य शुरू किया जा चुका है।

पर्यटकों के लिए हेलीकॉप्‍टर सेवा शुरू करने की योजना

बुद्ध सम्यक दर्शन संग्रहालय अंतरराष्ट्रीय संग्रहालय होगा जहां देश-विदेश से पर्यटकों को लाने की सरकार की योजना है। जो पर्यटक राजगीर, नालंदा और बोधगया घूमने आते हैं उन्हें इस स्थान की ओर आकर्षित करने के लिए सरकार ने हेलिकॉप्टर सेवा शुरू करने का मसौदा भी तैयार किया है।

हेलीपैड के लिए 2.5 एकड़ जमीन की हुई पहचान

हेलीपैड बनाने के लिए 2.5 एकड़ जमीन की पहचान की गई है। हेलीपैड और इससे जुड़ी दूसरी सुविधाएं विकसित करने के लिए डायरेक्टर सिविल एविएशन से अनुमति लेना आवश्यक है। भवन निर्माण विभाग के प्रधान सचिव ने मंत्रिमंडल सचिवालय को पत्र भेज अनुमति प्राप्त करने का आग्रह किया है।

सिविल एविएशन की मंजूरी के बाद आगे बढ़ेगा काम

विभाग को उम्मीद है कि जल्द ही सिविल एविएशन की मंजूरी मिलेगी। इसके बाद वास्तुविद चयनित स्थल पर हेलीपैड और इससे जुड़ी दूसरी महत्वपूर्ण सुविधाओं का प्रस्ताव तैयार करेंगे। बता दें कि भगवान बुद्ध की स्मृति से जुड़े इस महत्वपूर्ण स्थान को बौद्ध सर्किट से जोड़ने की भी सरकार की योजना है। जिस भी कार्य चल रहा है और केंद्र सरकार भी इसमें मदद कर रही है।