जिला पदाधिकारी वैशाली यशपाल मीणा के निर्देशानुसार समाहरणालय परिसर से बाल श्रम को रोकने हेतु लोगों के बीच जागरूकता दिखाया।

75

वैशाली/हाजीपुर। फैलाने हेतु जागरूकता रथ को श्रम अधीक्षक वैशाली सुजीत कुमार , सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी वैशाली ज्ञानेश्वर प्रकाश, सहायक निदेशक जिला बाल संरक्षण इकाई वैशाली प्रशांत कुमार एवं स्वर्गीय कन्हाई शुक्ला सामाजिक सेवा संस्थान के सचिव सुधीर कुमार शुक्ला ने संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाकर गाड़ियों को रवाना किया। जागरूकता गाड़ी के माध्यम से लोगों के बीच बाल श्रम को रोकने हेतु जन जागरूकता फैलाई जाएगी। श्रम अधीक्षक ने बताया कि पूरे वैशाली जिले में बाल श्रमिकों को विमुक्त कराने हेतु विशेष अभियान चलाया जाएगा । उन्होंने कहा कि बाल श्रमिकों से कार्य कराना गैर कानूनी है तथा इसके लिए सजा का प्रावधान एवं अर्थदंड लगाने का प्रावधान है। उन्होंने इस अवसर पर सभी लोगों से अपील की है कि अपने संस्थानों में बाल श्रमिकों ना रखें। उक्त आशय की जानकारी देते हुए कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रन फाउंडेशन के तहत संचालित एक्सेस टू जस्टिस फार चिल्ड्रन कार्यक्रम के निदेशक सुधीर कुमार शुक्ला ने बताया कि हम सभी का प्रयास होगा कि वैशाली जिले को बाल श्रम मुक्त बनाया जाए। इस दिशा में जिला पदाधिकारी वैशाली यशपाल मीणा के मार्गदर्शन में हम सभी अभियान को मूर्त रूप देने में लगे हैं। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग एवं श्रम संसाधन विभाग बिहार सरकार के द्वारा भी विशेष अभियान चलाने हेतु दिशा निर्देश प्राप्त हुआ है।

संवाददाता–राजेन्द्र कुमार।