मुख्यमंत्री की महत्वकांक्षी योजना नल- जल और नली- गली में हो रही है घपलेबाजी ,मुखिया और पीआरएस मिलकर कर रहे हैं दबंगई।

95

कुढ़नी प्रखंड के जम्हरूआ पंचायत स्थित वार्ड सात के सदस्या मंजू देवी ने पंचायत रोजगार सेवक व मुखिया पर अपने वार्ड स्थित रामभजन महतो के बथान से सिपाही महतो के घर तक सात निश्चय योजना से गली-नली को वार्ड क्रियान्वयन प्रबंध समिति द्वारा पीसीसी कार्य करने की स्वीकृती के बाबजूद मुखिया व पीआरएस के मिलीभगत से मनरेगा योजना से उक्त सङक को जबरन भय व दबंगता पूर्वक बनाने का प्रयास कर रहे  है ।

जबकि उक्त सङक को मुख्यमंत्री सात निश्चय गली-नली योजना से निर्माण को पंचायत से दो वर्ष पूर्व ही स्वीकृत दे दी गई है । इधर लूट-खसोट की नियत से मनरेगा योजना से उक्त सङक को बनाना चाहते है । जबकी वार्ड सात मे अब-तक महज एक जल-नल योजना की स्वीकृती हुई।

जिसे वार्ड क्रियान्वयन प्रबंध समिति ने प्राक्कलन के अनुरूप व उच्च स्तरीय पदाधिकारियो की देख-रेख मे नियत समय के भीतर ही तैयार कर नियमित चालू किये हुए है । जिसकी जांच केंद्रीय टीम द्वारा भी की जा चूकी है ।

जो कार्य संतोषजनक पाया। इधर वार्ड के प्रबुद्धजनो की मांग पर उक्त सङक निर्माण कराने की प्रखंड कार्यालय से स्वीकृती व पंचायत को उक्त वार्ड क्रियान्वयन समिति के खाते राशि मुहैया कराने को निर्देश दिया गया था। परंतु दबंगता पूर्वक मुखिया व पंचायत रोजगार सेवक ने मनरेगा योजना से उसी सङक का निर्माण जैसे-तैसे कराने मे जूटे है ।

इधर बीडीओ संजीव कुमार की माने तो उक्त सङक निर्माण को पूर्व ही स्वीकृती दी जाने की बात कही जा रही है । साथ ही पंचायत को भी राशि ट्रांसफर करने का निर्देश दिया गया था। मनरेगा योजना से पीसीसी करने से पंचायत को रोका गया था ।