कोरोना के खिलाफ जागरुकता रथ को सिविल सर्जन ने दिखाई हरी झंडी…

61

-इंटीग्रेटेड डेवलपमेंट फाउंडेशन और प्लान इंटरनेशनल की पहल
– कोरोना संक्रमण के बारे में लोगों को करेगा जागरुक

वैशाली: कोरोना के रोकथाम व जागरुकता फैलाने के उद्येश्य से सदर अस्पताल से शुक्रवार को सिविल सर्जन डॉ इंद्रदेव रंजन ने प्रचार रथ को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। यह प्रचार रथ एक सप्ताह तक राजापाकर प्रखंड में जाकर कोरोना के प्रति लेागों को जागरुक करेगा।

इंटीग्रेटेड डेवलपमेंट फाउंडेशन और प्लान इंटरनेशनल के इस पहल पर सिविल सर्जन ने संस्था को बधाई दी। इस अवसर पर सिविल सर्जन डॉ इंद्रदेव रंजन ने रथ को झंडी दिखाते हुए लोगों से अपील भी की। उन्होंने कहा कि खुद को सुरक्षित रखें और दूसरों को भी सुरक्षित रखें। इसके लिए हम सभी को बाहर निकलते वक्त या खांसते या छींकते वक्त मास्क पहनना अनिवार्य है। बाहर से जब भी आएं 20 सेकेंड तक अपने हाथ को जरुर धोएं। घर में जूतों का प्रवेश वर्जित करें। कोविड 19 के लक्षणों में सूखी खांसी, सर्दी, सांस लेने मे तकलीफ है। अगर इस तरह की कोई दिक्कत हो नजदीकी स्वास्थ्य केंद्रों पर जाकर अपनी जांच जरुर कराएं।

वहीं अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ ज्ञान शंकर ने कहा कि हमें जागरुक रहने की जरुरत है। अफवाहों पर ध्यान न दें। रथ रवाना करते हुए जिला यक्ष्मा पदाधिकारी डॉ शिव कुमार रावत ने कहा कि हम सब साथ मिल कर ही कोरोना से विजय पा सकते हैं। बशर्ते कि ससमय अपनी जांच कराएं तथा अस्पताल के द्वारा निर्देशित नियमों का पालन करें। जिला मलेरिया पदाधिकारी ने आईडीएफ के जिला समन्वयक राजन गौतम को इस प्रयत्न के लिए धन्यवाद दिया। मौके पर सिविल सर्जन डॉ इंद्रदेव रंजन, एसीएमओ डॉ ज्ञान शंकर, सीडीओ डॉ शिव कुमार रावत, मेडिकल ऑफिसर डॉ विजय कुमार, मनोज कुमार, अभिनव कुमार सहित अन्य शामिल थे।