31 मार्च तक बंद रहेंगे सभी स्कूल-कॉलेज समेत कई संस्था। बिहार सरकार ने उठाई कदम।

80

पटना, जेएनएन। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कोरोना वायरस को लेकर अपने आवास पर आज उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की।

बैठक के बाद मुख्य सचिव दीपक कुमार ने बड़ी घोषणा की जिसमें उन्होंने कहा कि बिहार सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर एहतियातन बड़ा फैसला लिया है।

उन्होंने कहा कि राज्य के सभी स्कूल-कॉलेज, कोचिंग इंस्टीच्यूट, सभी सिनेमा हॉल, जू-पार्क सभी 31 मार्च तक बंद रहेंगे। लेकिन सीबीएसई की परीक्षाएं जारी रहेंगी।

वहीं सरकारी कर्मी भी अल्टरनेट तरीके से इस दौरान दफ्तर आएंगे। 

नहीं मनाया जाएगा बिहार दिवस, मिड डे मील की राशि मिलेगी।

मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा कि कोरोना को देखते हुए बिहार दिवस जो कि 22 मार्च को आयोजित था वो भी नहीं मनाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि बिहार दिवस के आयोजन को लेकर नई तारीख का एेलान बाद में किया जाएगा। मुख्य सचिव ने कहा कि बिहार के सभी आंगनबाड़ी केंद्र बंद रहेंगे।

स्कूल बंद रहने के दौरान मिड डे मील की राशि बच्चों के परिजनों के खाते में डाल दिए जाएंगे। 

राज्य में किसी तरह का सरकारी आयोजन नहीं होगाइस दौरान राज्य में किसी भी तरह का कल्चरल आयोजन नहीं किया जाएगा।

वहीं सभी स्वास्थ्य विभाग कर्मियों की सभी छुट्टियां रद कर दी गई हैं। पटना के पीएमसीएच के सभी डॉक्टरों की छुट्टियां रद कर दी गई हैं। म्यूजियम बंद रहेंगे। जनता के लिए दिशा निर्देश भी जारी किए जाएंगे। 

सीएम नीतीश कुमार ने की थी हाई लेवल मीटिंग, लिया गया निर्णय

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई इस हाई लेवल मीटिंग में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, प्रदेश के स्वास्थ्यमंत्री मंगल पांडेय सहित कई उच्चाधिकारी शामिल थे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार में कोरोना से बचाव के लिए किए जा रहे उपायों की जानकारी ली। इसके साथ ही इसे लेकर क्या कदम उठाए जाने चाहिए, इसकी भी चर्चा की गई।