भारत ने एके-47 के बुलेट को 10 मीटर की दूरी से रोकने के लिए बनाए गए हेलमेट को DefXpo 2020 में दिखाया…

73
Army Helmet
Army Helmet

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक भारतीय सेना के कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिंग ने दुनिया का पहला ऐसा हेलमेट विकसित किया है जो 10 मीटर की दूरी से एके-47 के बुलेट को रोक सकता है।
इसका प्रदर्शन उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हो रहे डेफएक्सपो 2020 में किया गया है। इसका वजन 1.4 किलोग्राम मापी गई है ।
साथ ही कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिंग ने भारत का पहला और दुनिया का सबसे सस्ता गनशॉट लोकेटर भी विकसित किया है।
इसका उपयोग आतंकवादियों को तेजी से पता लगाने और उसे बेअसर करने में मदद करने में होगा क्योंकी  यह 400 मीटर की दूरी से ही बुलेट की सटीक स्थिति का पता लगा लेता है।
शुक्रवार को केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि  DefXpo में अब तक 200 से अधिक एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए हैं। जिसमें कहा गया है कि देश 2024 तक रक्षा निर्यात में 5 बिलियन अमेरिकी डॉलर के लक्ष्य को हासिल करने की राह पर है।
DefXpo के कार्यक्रम को केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संबोधित करते हुए कहा इन सब सेक्टरों के लिए केंद्र की नीति ने परिणाम देने की शुरुआत कर दी है।
रिपोर्ट्स के मुताबिक इस साल लखनऊ में डीएफएक्सपो का 11 वां संस्करण जो लगा है, यह भारत के सबसे बड़े रक्षा प्रदर्शनी मंच के साथ-साथ दुनिया में शीर्ष DefXpo में से एक बन गया है।
यहाँ1000 से भी अधिक और 150 कंपनियों ने इस एक्सपो में अपना हिस्सा लिया है।
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने यह भी कहा कि यह एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार रक्षा उत्पादन में भारतीय क्षमताओं को दर्शाता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 5 फरवरी को उद्घाटन किए गए पांच दिवसीय कार्यक्रम में दुनिया भर की रक्षा विनिर्माण कंपनी भाग ले रही है, जिन्होंने संकेत दिया है कि देश 2024 तक 5 बिलियन अमेरिकी डॉलर के निर्यात पर नजर रख रहा हैै।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के माध्यम से राज्य में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।उन्होंने कहा कि इससे 50000 करोड़ का निवेश होगा और करीब दो से तीन लाख रोजगार पैदा होंगे।