पंचायत चुनाव के अगले दिन ही, हो जाएगी मतों की गणना

42

बिहार पंचायत चुनाव को लेकर प्रत्येक जिले में एक दिन में ही सभी छह पदों के लिए चुनाव होगा और मतदान के दूसरे दिन या अगले दिन प्रत्येक जिले में मतगणना होगी। आयोग ने सभी जिलाधिकारी सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी, पंचायत को निर्देश दिया है कि मतगणना कार्य इस प्रकार कराया जाए कि एक दिन में संपन्न हो सके। मतगणना कार्य के बाद मल्टी पोस्ट ईवीएम से एसडीएमएम (चिप) निकालकर जिला निर्वाचन पदाधिकारी, पंचायत की सुरक्षा में रखा जाए। इसके बाद, अगले जिले में उक्त ईवीएम को स्थानांतरित करना है।

आयोग के सचिव योगेंद्र राम ने सभी जिलों को दिए निर्देश ईवीएम को एक जिले से दूसरे जिले में ले जाने को लेकर विस्तृत दिशा-निर्देश में कहा कि प्रत्येक चरण में एक प्रमंडल में एक जिला में चुनाव कराया जाए। इसमें अपवाद नौवां और दसवां चरण हो सकता है। आयोग के अनुसार, अगले चरण में जिलों का चयन बूथों की संख्या (आधार वर्ष-2016), ईवीएम संख्या तथा रिजर्व रखे जाने वाले ईवीएम की संख्या के सापेक्ष न्यूनतम दूरी के सिद्धांत पर आधारित है।

आयोग ने सभी जिलों से ईवीएम को एक जिले से दूसरे जिले में ले जाने की योजना को लेकर सुझाव मांगे हैं। साथ ही, जिला को ईवीएम मिलने के बाद प्रखंड स्तर पर निर्वाची पदाधिकारी द्वारा ईवीएम की तैयारी, प्रखंड से मतदान केंद्र पर भेजने और मतदान केंद्र से मतगणना केंद्र पर पहुंचाने, मतदान के दिन के लिए सुरक्षित ईवीएम क्लस्टर को चिह्नित करने को लेकर भी सुझाव मांगे हैं।

इसके अतिरिक्त मतगणना के बाद ईवीएम से चिप निकालकर सुरक्षित रखने और ईवीएम को दूसरे जिला को स्थानांतरित करने की व्यवस्था को लेकर भी राय देने को कहा है। आयोग ने ईवीएम ले जाने की योजना माइक्रो लेवल पर तैयार कर सुझाव के साथ 10 मार्च तक भेजने को कहा है।