उत्तर भारत मे ठंढ का कहर जारी, मुज़फ़्फ़रपुर के सुस्ता के चक्की गाँव मे समाजसेवी ने बाँटी कम्बल…

362
Kambal distribution
Kambal distribution

जहां एक तरफ उत्तर भारत में ठंड का कहर जारी है, वहीं दूसरी तरफ शहर व गांव के विभिन्न सार्वजनिक जगह पर प्रशासन के द्वारा अलाव की व्यवस्था की जा रही है, इसी बीच मुजफ्फरपुर के सुस्ता पंचायत में पड़ने वाली चक्की गांव में समाजसेवी अर्जुन राय ने गरीब व असहाय लोगो के बीच कंबल का बंटवारा किया। उन्होंने पत्रकार से बात करते हुए कहा कि यहां के प्रतिनिधि जमीर बेचकर जमीन खरीदते हैं लेकिन मैं जनता की सेवा के लिए जमीन बेचकर आज कंबल बांटने आया हूं। बता दे पूरे उत्तर भारत ठंड के कहर से जूझ रही है शहर तो दूर गांव के क्षेत्र में भी दृश्यता शून्य नजर आ रही है।

वीडियो के लिए क्लिक करे ?ऊपर? लाल बटन पर

मौसम अलर्ट: अगले 48 घंटों में होगा ठंड का कहर, बारिश के आसार
मौसम विशेषज्ञ (Meteorologist) प्रो. ध्रुवसेन सिंह के मुताबिक ‘उत्तर प्रदेश के मौसम में हुए इस बदलाव का सबसे बड़ा कारण पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) की सक्रियता और पहाड़ों पर लगातार हो रही बर्फबारी (snowfall) है.

लखनऊ. पहाड़ों पर लगातार हो रही बर्फबारी (snowfall) के बीच उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में हुई बिन मौसम बरसात (rain) के चलते एक बार फिर यूपी में ठंड बढ़ गई है. बीते बुधवार की सुबह से शुरू हुआ बारिश का क्रम रूक-रूक कर आजमगढ़, लखीमपुर जैसे जिलो में अभी तक जारी है. बारिश के साथ बांदा, मिर्जापुर, जौनपुर, अम्बेडकरनगर, सीतापुर और रायबरेली समेत कई जिलो में ओले भी पड़े हैं. बारिश और ओलावृष्टि से एक ओर जहां तापमान में बड़ी गिरावट आई तो वहीं दूसरी ओर ओलावृष्टि (hail) से रबी की फसलों को नुकसान भी हुआ है।

मौसम विशेषज्ञ प्रो. ध्रुवसेन सिंह के मुताबिक ‘उत्तर प्रदेश के मौसम में हुए इस बदलाव का सबसे बड़ा  कारण पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता और पहाड़ों पर लगातार हो रही बर्फबारी है. अगले 48 घंटों में दिल्ली एनसीआर समेत उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बारिश हो सकती है. उत्तर प्रदेश में तेज हवाओं के साथ रुक-रुक कर होने वाली बारिश का दौर आने-वाले एक-दो दिन तक और जारी रह सकता है’. उन्होंने बताया कि अधिकतर समय तक आसमान में बादल छाये रहेंगे और कहीं-कहीं पर बरसात के साथ ओले भी गिर सकते हैं.

उत्तर प्रदेश में बिन मौसम हुई बरसात ने ठंड में फिर से इजाफा कर दिया. तापमान में आई बड़ी गिरावट से जहां आम लोगों की मुसीबतें बढ़ गई हैं वहीं इस बारिश के साथ बांदा, मिर्जापुर, जौनपुर, सीतापुर, अम्बेडकरनगर और रायबरेली समेत कई जिलों में हुई ओलावृष्टि से हज